Resume Samples

Difference Between Resume and CV In Hindi ??

CV-Vs-Resume

हेलो दोस्तों! Welcome to our blog . आज हम फिर से आपके साथ एक इंटरेस्टिंग बात डिसकस करने वाले है और इस पोस्ट में हम आपको काफी knowledgable  बाते बताने वाले तो हमारे साथ बने रहिये क्युकी आज हम बतायंगे आपको Difference  between resume and CV. हर पड़े लिखे इंसान को CV की ज़रुरत पड़ती ही है क्योकि नौकरी पाने के लिए रिज्यूमे, CV, होना ज़रूरी है|

जैसे ही हमारी ग्रेजुएशन कम्पलीट होने वाली होती है और हम नौकरी की तलाश करते है उस समय रिज्यूमे, CV ,बायोडाटा बहुत काम आता है। जिस भी कंपनी में हम नौकरी करना चाहते है उस पोस्ट के लिए हमे रिज्यूमे या CV की ज़रुरत पड़ती है। और काफी सारे लोग रिज्यूमे और स्व एक ही समझते है लेकिन  ऐसा नहीं होता क्योकि रिज्यूमे और CV दोनों अलग अलग होते है

Also Read : Resume and CV Format Example

कुछ जॉब्स के लिए cv की ज़रूररत होती है और कुछ के लिए रिज्यूमे की तो आपको पता  होना चाहिए की रिज्यूमे एंड स्व में क्या अंतर है और ये कहाँ use  होते है। अगर आप भी रिज्यूमे बनाना चाहते है तो हमने इस पर भी पोस्ट लिखे हुए है की रिज्यूमे कैसे बने, आप उसके बारे में पढ़ सकते है। आएये जानते है CV Kya hota hai ? और Resume Kya hota hai ?? और साथ ही साथ Difference between cv and resume in Hindi ??  सबसे पहले हम जानते है What is cv ??

CV

CV : CV  का पूरा नाम होता है करिकुलम विटै (Curriculum Vitae).

CV meaning in hindi  : CV  एक लैटिन शब्द है जिसका अर्थ होता है Course of life .

ये रिज्यूमे से ज़्यादा डिटेल  में जहाँ आपकी पूरी लाइफ का विवरण होता है इसकी लम्बाई 2 -3  पेज  की होती है जहाँ आपके करियर, अब तक की सारी स्किल्स, अचीवमेंट्स, जॉब्स, पोजीशन, आपके डिग्रीज, एक्सपीरियंस, और भी बहुत कुछ आपकी लाइफ के बारे में होता है। cv में आप अब तक के किए गये काम में आपके योगदान और साथ अपने पुरुस्कार के बारे में भी लिख सकते हो।

CV  ज़्यादातर उन लोगो के लिए सही रहता है जो की फ्रेशर्स है और अभी तक कोई भी जॉब नहीं करि और साथ ही उन लोगो के लिए भी होता है जो अपनी लाइफ को बदलना चाहते है आपसे CV  टीचर और रिसर्च की जॉब्स के लिए खासकर CV माँगा जाता है|

Also Read : Teacher Ke Resume Banay ??

CV  में आपको अपनी बेसिक डिटेल्स भी लिखनी होती जैसे की आपका पूरा नाम, फ़ोन नंबर, ईमेल id , और सोशल मीडिया के अकाउंट के लिंक्स भी होना चाहिए जो की आपको कांटेक्ट करने के लिए ज़रूरी होते हैं ।

फ्रेंड्स अब हम बात करते है रिज्यूमे के बारे में और अगर आप रिज्यूमे कैसे बनाए ?? जानना चाहते है तो आप निचे लिखे हुए लिंक पर क्लिक करके जान सकते है

Resume  :

Resume

ज़्यादातर जितनी भी नौकरी होती है उसकी लिए रिज्यूमे ही चाहिए होता है और Resume meaning in Hindi  होता है ” सार”. रिज्यूमे वो फॉर्मेट होता है जहाँ पर आप अपनी सभी डिटेल्स शार्ट में देते हो और इसमें आपको वही डिटेल्स देनी होती है जो की बेहद ही ज़रूरी है और जॉब में सिलेक्शन के लिए अनिवार्य है।

Also Read : Freshers Ke Liye Resume Format

इसलिए आपको ध्यान रखना चाहिए की आपका रिज्यूमे 1 पेज का होना चाहिए या उस से ज़्यादा 2  पेज का। रिज्यूमे में भी आपको अपनी बेसिक डिटेल्स देनी होती है जैसे आपका नाम, क्वालिकेशन्स, एक्सपीरियंस, स्किल्स और पिछली companies में आपका रिकॉर्ड कैसा रहा।

एक तरह से आपका रिज्यूमे में आपको आपकी ड्रीम जॉब तक ले जाने का रास्ता होता है तो इसे बनाते समय ध्यान दे की आपका रिज्यूमे active वौइस् में होना चाहिए और जितनी भी जानकारी डालो सभी शार्ट में होनी चाहिए ।

रिज्यूमे बनाने के अलग अलग तरीके होते है जैसे आप अपना रिज्यूमे online और offline बना सकते हो। साथ ही आप अपना रिज्यूमे बनाते समय हमारा पोस्ट resume kaise banay in hindi ज़रूर पड़े ताकि आपको हेल्प होगी  आपको अपना रिज्यूमे बनाने में और आप अपना रिज्यूमे को एक प्रोफेशनल में convert कर सकते हो जिस से आपको आसानी से जॉब मिल जायगी|

दोस्तों आशा करता हूँ की आपको Difference  between cv and resume समझ आया होगा और आपको अब आपको पता चल गया होगा की आपको कहाँ पर अपना रिज्यूमे देना और कहाँ आपको CV देना है. इस पोस्ट को आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और धनयवाद हमारे साथ बने रहने के लिए ।

 

About the author

Bilson Mandela

Leave a Comment